कैन्यन की लंबाई 1000 किलोमीटर
Last Updated  07:06 AM [19/01/2016]

अभी तक अमेरिका की ग्रैंड कैन्यन (तंग गहरी घाटी) ही दुनिया में लंबाई के लिए मशहूर है। लेकिन अब इससे भी लंबी कैन्यन का पता चलने का दावा किया गया है। दुनिया की इस लंबी कैन्यन की लंबाई 1000 किलोमीटर है और यह एक किलोमीटर गहरी है।अंटार्टिक पर बर्फ की चादर के नीचे इसके छिपे होने का अनुमान है। इस कैन्यन की खोज करने वाली वैज्ञानिकों की टीम में एक भारतीय शोधकर्ता भी शामिल हैं। शोध का निष्कर्ष जीओलॉजी जरनल में प्रकाशित हुआ है।

धरती की सतह के अज्ञात क्षेत्र पूर्वी अंटार्टिक में प्रिंसेस एलिजाबेथ लैंड (पीईएल) पर कई किलोमीटर बर्फ के नीचे यह कैन्यन दबी हुई है। अध्ययन करने वाली टीम के नेता और ब्रिटेन के डरहम विश्वविद्यालय के डॉ. स्टेवार्ट जैम्सन ने प्रकाशित शोध निष्कर्ष में कहा है, "हमारा विश्लेषण सबसे पहला प्रमाण देता है कि पीईएल पर बर्फ के नीचे एक विशाल कैन्यन और झील मौजूद है।"

उपेक्षित है यह हिस्सा:-अंटार्टिक के जिस हिस्से में कैन्यन की मौजूदगी के बारे में बताया गया है वहां बर्फ की मोटाई मापने का काम नहीं के बराबर हुआ है। इस कारण वैज्ञानिकों ने इसे अंटार्टिक के दो "उपेक्षित ध्रुव" नाम दिया है। कैन्यन के निर्माण पर अनुमान जाहिर करने के बाद जैम्सन ने कहा है, "धरती का यह हिस्सा ब्रिटेन से भी बड़ा है और अभी तक हम यह नहीं जानते कि यहां बर्फ के नीचे क्या-क्या छिपा है। असल में मंगल की सतह के बारे में हमारे पास जितनी जानकारी है उतनी अंटार्टिक की गहराई में छिपी चीजों के बारे में नहीं है।"

Add New Comment

 
 
 
 
 
 
POPULAR STORIES
BUSINESS AND FINANCE