विश्व बैंक ने हमारे आधार कार्ड और इससे जुड़ी व्यवस्था की तारीफ की है।
Last Updated  12:11 PM [14/01/2016]

देश में लोगों को बेशक आधार कार्ड से जुड़ी समस्याओं की शिकायतें हों, इसके बावजूद विश्व बैंक ने हमारे आधार कार्ड और इससे जुड़ी व्यवस्था की तारीफ की है। बैंक की ओर से यह भी कहा गया है कि भारतीय सरकार इस डिजिटल पहचान-पत्र का सही दिशा में उपयोग करके भ्रष्टाचार पर भी रोक लगा सकती है।

देश में डिजिटल टेक्नोलॉजी को अपनाकर नई इबारत लिखी जा सकती है और भ्रष्टाचार व टैक्स चोरी पर रोकथाम लगाकर हर साल 650 करोड़ रुपए बचाए जा सकते हैं।वर्ल्ड बैंक के चीफ इकॉनोमिस्ट कौशिक बसु ने इस बारे में रिपोर्ट जारी करते हुए कहा कि अगर भारत 650 करोड़ जैसी बड़ी राशि बचा ले तो उससे वित्तीय बजट और अन्य विकासात्मक योजनाएं बनाई जा सकती हैं।उन्होंने कहा कि भारत के आधार कार्ड के रूप में डिजिटल पहचान-पत्र जारी करके जटिल सूचनाओं को आसान करने में सफलता हासिल की है। सरकार अब इस टेक्नोलॉजी से वंचित समूहों को जोड़कर इसका दायरा बढ़ा सकता है, जिससे विकास में बहुत सहायता मिलेगी।

Add New Comment

 
 
 
 
 
 
POPULAR STORIES
BUSINESS AND FINANCE