खेतों में जमी बर्फ
Last Updated  06:50 AM [19/01/2016]

शेखावाटी में सर्दी के तेवर इन दिनों बेहद तीखे हैं। पूरा अंचल कड़ाके की ठण्ड की चपेट में है। मकर संक्रांति के बाद से बढ़ी सर्दी का असर अभी भी बरकरार है। कोहरा भी लगातार छा रहा है। मंगलवार को अंचल का कोना-कोना घने कोहरे में ढका रहा। सोमवार देर रात से ही कोहरा छाना शुरू हो गया था। कई इलाकों में तो समाचार लिखे जाने तक कोहरा नहीं छंटा। वहीं सीकर जिला मुख्यालय पर कोहरे का असर सुबह साढ़े नौ बजे तक रहा, इसके बाद धूप खिली। मगर ग्रामीण इलाकों में कोहरे के कारण सुबह 11 बजे तक सूरज के दर्शन नहीं हुए। लोगों ने जगह-जगह अलाव तापकर सर्दी से राहत पाई। उधर, फतेहपुर स्थित कृषि अनुसंधान केन्द्र पर न्यूनतम तापमान 7.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

पलसाना में हादसा-कोहरे के कारण सीकर के पलसाना के पास सुबह हादसा हो गया। यहां भदाला की ढाणी बाइपास कट के पास एक के बाद एक करके छह वाहन टकरा गए। हालांकि वाहनों के टकराने से सवारियों को ज्यादा चोट नहीं आई, क्योंकि कोहरे की वजह से वाहनों की रफ्तार धीमी थी। मगर आपस में टकराए वाहनों को काफी नुकसान हुआ है। इससे सड़क पर कुछ देर के लिए जाम लग गया। बाद में सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने क्षतिग्रस्त वाहनों को हटाकर आवागमन सुचारू करवाया।

खेतों में जमी बर्फ-अंचल में सांझ ढलने के साथ ही सर्दी का असर बढ़ रहा है। रात होते होते तो तेवर अधिक तीखे हो रहे हैं। थोई, फतेहपुर, नीमकाथाना और उदयपुरवाटी इलाके के कई खेतों में मंगलवार सुबह बर्फ जमी। सर्दी बढऩे से आमजन भले ही बेहाल हो रहा हो, मगर बढ़ी सर्दी के कारण रबी की फसलों की अच्छी बढ़वार को लेकर किसानों के चेहरे खिले हुए हैं।

Add New Comment

 
 
 
 
 
 
POPULAR STORIES
BUSINESS AND FINANCE